Friday, September 28, 2018

Good Morning Whatsapp Images


हेल्लो दोस्तों आज हम आपके साथ Good Morning Whatsapp Images,good morning images, good morning sms, good morning images for lover share कर रहे है |
 
Good Morning Whatsapp Images
Good Morning Whatsapp Images

Good Morning Whatsapp Images


खुशी के फूल उन्हीं के दिलों में खिलते हैं,
जो इंसान की तरह इंसानों से मिलते हैं,
*सुप्रभात*

मनुष्य का अपना आत्मविश्वास ही उसकी भावी उन्नति के लिये प्रथम सीढ़ी है ।
#सुप्रभात


न जाने क्यू अभी आपकी याद आ गयी......!!
मौसम क्या बदला बरसात भी आ गयी.....!!
मैंने छुकर देखा बूंदों को तो हर बूंद में आपकी तस्वीर नज़र आ गयी

Good Morning SMS, Quotes:

#GOOD_MORNING#
Good Morning SMS, Quotes

विचार ऐसे रखो की तुम्हारे
विचारो पर भी किसी को विचार करना पड़े
समुद्र बनकर क्या फायदा
बनना है तो छोटा तालाब बनो
जहाँपर शेर भी पानी पीयें तो
गर्दन झूकाकर

सुबह होती नही शाम ढलती नही...
न ज़ाने क्या
खूबी है, आप मे कि.....
आप को याद किए बिना #खुशी
मिलती नही….

Good Morning Images For Whatsapp Free Download

Good Morning Images For Whatsapp Free Download
Good Morning Images For Whatsapp Free Download

सवेरे-सवेरे हो खुशियों का मेला,
न लोगों की प्रवाह न दुनिया का झमेला,
पंछियों का संगीत हो और मौसम अलबेला,
मुबारक हो मामू ये खूबसूरत सवेरा..!!
Good Morning #सुप्रभात #गुड मॉर्निंग !!

अच्छा लगता है मुझे उन लोगों को सुबह का अभिवादन करना जो मेरी समझ न
होते हुए भी मैं रह दही के बहुत पास होने का अहसास दिलाते हैं
" आपका दिन मंगलमय हो"

आप नहीं होते तो हम खो गए होते
अपनी ज़िन्दगी से रुसवा हो गए होते
ये तो आपको गुड मोर्निंगकहने के लिए उठें हैं
वर्ना हम तो अभी तक सो रहे होते |

Good Morning Images For Whatsapp In Hindi
Good Morning Images For Whatsapp In Hindi
Good Morning Images For Whatsapp In Hindi

रात गुजारी फिर महकती सुबह आई,
दिल धड़का फिर तुम्हारी याद आई,
आँखों ने महसूस किया उस हवा को,
जो तुम्हें छु कर हमारे पास आई..!!
Good Morning #सुप्रभात #गुड मॉर्निंग !

नयी सी सुबह नया सवेरा,
सूरज की किरनो में है हवा का बसेरा,
खुले आसमान में सूरज का चेहरा,
मुबारक हो आपको ये हसीन सेवरा।
शुभ प्रभात..

जीवन को बदलने के लिए सबसे पहले स्वयं को बदलिए ,
परिवर्तन कहीं और नहीं खुद से शुरु होता हैं

चलने की कोशिश तो करो दिशाएं बहुत है रास्तों
पर बिछड़े कांटो से न डरो आपके साथ दुआएं बहुत है |

Good Morning Images With Quotes
Good Morning Images With Quotes
Good Morning Images With Quotes

शायराना अंदाज में कुबूल करे नजराना
खिल रही है सुबह लेकर नया फ़साना
अपनी मुस्कान से इसे शुरू करे
यही हैं खुशियों का अनमोल ख़जाना

"सत्य की भूख सबको है लेकिन सत्य जब परोसा जाता है तो बहुत कम लोगों को इसका स्वाद अच्छा लगता है।"

" ज़िन्दगी "
बदलने के लिए लड़ना पड़ता है और आसान करने के लिए समझना पड़ता है ।।
वक़्त आपका है ,, चाहे तो सोना बना लो ,, और चाहे तो सोने में गुज़ार दो ।

"क्रोध मूर्खता से शुरू होता है और पछतावे पर खत्म होता है।"

Good Morning Images Download

Good Morning Images Download


जिस तरह उबलते हुऐ पानी मे हम अपना प्रतिबिंब नही देख पाते है...
उसी तरह क्रोघ मे यह नही समज पाते है कि...
हमारी भलाई किस बात मे है और किस बात मे नही है।..
-महात्मा बुद्ध

चेहरे पे हँसी आँखों मे खुशी,
गम का कही काम ना हो,
हर सुबह लाए आपके जिंदगी मे बहुत खुशियाँ,
जिसकी ढलने की कोई शाम ना हो

सुबह के फूल खिल गए,
पंछी अपने सफर पे उड़ गए,
सूरज आते ही तारे भी चुप गए,
क्या आप मीठी नींद से उठ गए?

आज कुछ घबराये से लगते हो,
ठंड मे कपकपाये से लगते हो,
निखार कर आई है सुरत आपकी,
बहुत दिनों बाद नहाये से लगते हो

Good Morning Image With Shayari

Good Morning Image With Shayari


आपकी आँखों को जगा दिया हमने,
गुड मॉर्निंग का फ़र्ज़ अदा किया हमने,
मत सोचना की सोये हुए हैं हम,
आज आपसे पहले आपको याद किया हमने.


जन्नत की महलों में हो महल आपका,
ख्वाबो की वादी में हो शहर आपका,
सितारो के आंगन में हो घर आपका,
दुआ है सबसे खूबसूरत हो हर दिन आपका

Good Morning Images With Flowers Hd

Good Morning Images With Flowers Hd
Good Morning Images With Flowers Hd

हवाओं के साथ एक फरमान भेजा है,
सूरज की किरणों के साथ एक पैगाम भेजा है,
घर गया चाँद और छुप गए सितारे,
हो गई है सुबह अब उठ जाओ प्यारे,
हमने मैसेज के जरिये दिल से सलाम भेजा है.
शुभ दिवस

क्या मांगू मैं खुदा से तेरे वास्ते;
सदा ख़ुशियाँ ही रहे तेरे रास्ते;
हँसी तेरे चेहरे पे रहे इस तरह;
खुश्बू फूलों का साथ निभाती है जिस तरह।
सुप्रभात

जैसे रात आती है सितारे लेकर;
और नींद आती है सपने लेकर;
करते हैं दुआ हम कि आपकी हर सुबह आये;
बहुत सारी खुशियाँ लेकर।
सुप्रभात!

आपकी ज़िंदगी में कभी गम ना हो;
आपकी आँखें कभी आंसुओं से नम ना हो;
मिले आपको ज़िंदगी में सारी खुशियाँ;
भले ही उस ख़ुशी में हम ना हो।
सुप्रभात!

Good Morning SMS | सुप्रभात SMS


* नफरतों से भरी इस दुनिया में कोई है जो मेरी खुशियों की फ़िक्र करता है,
भगवान उनकी हर तमन्ना पूरी करे, जो अपनी प्रार्थना में भी मेरा ज़िक्र करता है।
सुप्रभात

 ना मंदिर ना भगवान,
ना पूजा ना स्नान,
सुबह होते ही सबसे पहला काम,
अपने सभी प्यार मित्रों को कहना सुप्रभात
सुप्रभात



सुबह सुबह एक पैगाम देना है;
आपकी सुबह को पहला सलाम देना है;
गुज़रे सारे दिन आपके खुशियों में;
आपकी सुबह को एक खूबसूरत नाम देना है।
सुप्रभात!

ख़ुदा से क्या मांगू तेरे वास्ते;
सदा ख़ुशियाँ हो तेरे रास्ते;
हँसी तेरे चेहरे पे रहे इस तरह;
खुश्बू फूलों का साथ निभाती है जिस तरह।
सुप्रभात!

* ये सुबह जितनी खूबसूरत है,
उतना ही खूबसूरत आपका हर एक पल हो;
जितनी भी खुशियाँ आपके पास आज हैं,
उससे भी ज्यादा वो आपके पास कल हों।
सुप्रभात!

* इन ताज़ी हवाओं में फूलों की महक हो;
पहली किरण में पंछियों की चहक हो;
जब भी खोलो आप अपनी पलकें;
उन पलकों में बस खुशियों की झलक हो।
सुप्रभात!
 
Good Morning HD Images
Good Morning HD Images

* ख़्वाबों के जहाँ से अब लौट आओ;
हुई है सुबह अब जाग जाओ;
चाँद-तारों को अब कह कर अलविदा;
इस नए दिन की खुशियों में खो जाओ।
सुप्रभात!
GM Images


Share:
Read More

Wednesday, August 22, 2018

Happy Raksha Bandhan Shayari Quotes Sms in Hindi


रक्षाबंधन पर हिंदी शायरी कविता | Raksha Bandhan Shayari, Quotes, SMS|

Happy Raksha Bandhan Shayari Quotes Sms in Hindi

-: Happy Raksha Bandhan Shayari Quotes Sms in Hindi :-


खुश किस्मत होती है वो बहन,
जिसके सिर पर भाई का हाथ होता है,
हर परेशानी मे उसके साथ होता है,
लड़ना झगड़ना फिर प्यार से मनाना
तभी तो इस रिश्ते में इतना प्यार होता है |
Happy Raksha Bandhan.

आया राखी का त्यौहार ,
छाई खुशियों की बहार ,
एक रेशम की डोरी से बाँधा ,
एक बहन ने अपने भाई की कलाई पर प्यार

रिश्ता हम भाई बहन का ,
कभी खट्टा कभी मीठा ,
कभी रूठना कभी मनाना ,
कभी दोस्ती कभी झगड़ा ,
कभी रोना और कभी हसाना ,
ये रिश्ता है प्यार का ,
सबसे अलग सबसे अनोखा


-: Raksha Bandhan Shayari :-

दिल से देता हूँ मैं दुआ तुझको,
कभी न हो दुःख की भावना मन में,
उदासी छू न पाए कभी भी तुझको,
खुशियों की चाँदनी छा जाये जीवन में।

-: Raksha Bandhan Quotes :-

आसमान पर सितारे है जितने, उतनी जिंदगी हो तेरी;
किसी की नज़र न लगे, दुनिया की हर ख़ुशी हो तेरी;
रक्षाबंधन के दिन भगवान से बस यह दुआ है, मेरी!

लाल गुलाबी रंग है, जम रहा संसार;
सूरज की किरणों से खुशियों की बहार;
बधाई हो आपको 'राखी' का त्योहार!

Rang Berangi Mausam me Savan Ki Ghata Chai,
Khushiyo ki Saugat lekar Bahana, Rakhi Bandhane Aayi,
Sada khus rahe, Behan aur Bahi,
रक्षा बंधन की बधाई !

-: रक्षा बंधन की बधाई :-
सब से अलग हैं भैया मेरा,
सब से प्यारा है भैया मेरा,
कौन कहता हैं खुशियाँ ही सब होती हैं,
जहाँ में मेरे लिए तो खुशियों से भी अनमोल हैं भैया मेरा |
एक बहन की तरह से अपने भाई को रक्षा बंधन की बधाई !

रक्षाबंधन पर हिंदी शायरी कविता

Kaamyabi tumhare kadam chume,Khushiyan tumhare charo aur ho,
Par bhagwan se itni prarthana karne ke liye,tum mujhe kuch to commission do!To my extremely lovable (but kanjoos) brother…Just kidding as always.“Happy Raksha Bandhan.

-: Happy raksha bandhan sms hindi :-

चावल की खुशबु और केसर का सिंगार
भाल तिलक और खुशियों की बौछार,
बहनों के साथ और बेसुमार प्यार
मुबारक हो आपको राखी का त्यौहार.


याद है हमारा वो बचपन ,
वो लड़ना झगड़ना और वो मना लेना ,
यही होता है भाई बहन का प्यार ,
और इसी प्यार को बढ़ाने के लिए आ रहा है रक्षा बंधन का त्यौहार।

आसमान पर सितारे है जितने, उतनी जिंदगी हो तेरी;
किसी की नज़र न लगे, दुनिया की हर ख़ुशी हो तेरी;
रक्षाबंधन के दिन भगवान से बस यह दुआ है, मेरी!

“Jhula Bahon Ka Aaj Bhi Do Na Mujhe
Jhula Bahon Ka Aaj Bhi Do Na Mujhe
Bhaiyaa Goud Mein Uthao Na Aaj Mujhe
Kad Se Hoon Badi Mann Se Chhoti Main
Aaj Bhi Maan Lo Na Zid Meri.”

"Sisters is probably the most competitive relationship within the family, but once sisters are grown, it becomes the strongest relationship."

“Sister is someone who is caring and sharing. Sister can understand things you never said. She can understand pain which is not visible to anyone. I love my sister.”



Share:
Read More

रक्षाबंधन क्यों मनाया जाता है-Rakshabandhan Kyon Manate Hai


रक्षाबंधन क्यों मनाया जाता है? Why celebrates raksha bandhan in hindi. Rakshabandhan Kyon Manate Hai?

रक्षाबंधन क्यों मनाया जाता है
रक्षाबंधन क्यों मनाया जाता है

त्यौहार मनाने की हमारी प्राचीन परंपरा है| हमारे देश में अनेक त्यौहार मनाए जाते हैं| मनाए जाने वाले त्योहारों में रक्षाबंधन एक बड़ा त्यौहार है| त्यौहार भाई-बहन के स्नेह का त्यौहार बन गया !

और हर एक त्यौहार मनाने के पीछे कोई न कोई कारण जरुर होता है | उसी प्रकार हिन्दू धर्म में रक्षाबंधन को त्यौहार मनाया जाता है | अगर आप सोच रहे है की वो क्यों मनाया जाता है तो उसके बारे में हम आपको जानकारी दे देते है |

रक्षाबंधन क्यों मनाया जाता है ?

इन्द्रदेव की कहानी :
देव और दानवों में जब युद्ध शुरू हुआ तब दानव जित रहे थे एसा नज़र आ रहा था | भगवान इन्द्र घबरा कर बृहस्पति के पास गये। वहां बैठी इन्द्र की पत्नी इंद्राणी सब सुन रही थी। उन्होंने रेशम का धागा मन्त्रों की शक्ति से पवित्र करके अपने पति के हाथ पर बाँध दिया।
संयोग से वह श्रावण पूर्णिमा का दिन था। लोगों का विश्वास है कि इन्द्र इस लड़ाई में इसी धागे की मन्त्र शक्ति से ही विजयी हुए थे। उसी दिन से श्रावण पूर्णिमा के दिन यह धागा बाँधने की प्रथा चली आ रही है। यह धागा धन, शक्ति, हर्ष और विजय देने में पूरी तरह समर्थ माना जाता है।

महाभारत की कहानी :
में भी इस बात का उल्लेख है कि जब ज्येष्ठ पाण्डव युधिष्ठिर ने भगवान कृष्ण से पूछा कि मैं सभी संकटों को कैसे पार कर सकता हूँ तब भगवान कृष्ण ने उनकी तथा उनकी सेना की रक्षा के लिये राखी का त्योहार मनाने की सलाह दी थी। उनका कहना था कि राखी के इस रेशमी धागे में वह शक्ति है जिससे आप हर आपत्ति से मुक्ति पा सकते हैं।

इस समय द्रौपदी द्वारा कृष्ण को तथा कुन्तीद्वारा अभिमन्यु को राखी बाँधने के कई उल्लेख मिलते हैं।  महाभारत में ही रक्षाबन्धन से सम्बन्धित कृष्ण और द्रौपदी का एक और वृत्तान्त भी मिलता है। 
जब कृष्ण ने सुदर्शन चक्र से शिशुपाल का वध किया तब उनकी तर्जनी में चोट आ गई। द्रौपदी ने उस समय अपनी साड़ी फाड़कर उनकी उँगली पर पट्टी बाँध दी। यह श्रावण मास की पूर्णिमा का दिन था। कृष्ण ने इस उपकार का बदला बाद में चीरहरण के समय उनकी साड़ी को बढ़ाकर चुकाया। कहते हैं परस्पर एक दूसरे की रक्षा और सहयोग की भावना रक्षाबन्धन के पर्व में यहीं से प्रारम्भ हुई।

तो इस प्रकार की और भी कहानियाँ है, जिनके बारे में लिखा गया है | रक्षाबंधन का त्यौहार भाई-बहन के लिए एक अनोखा त्यौहार है |
तो अब आप समझ गए होंगे की आखिर Raksha bandhan का त्यौहार क्यों मनाया जाता है |

Share:
Read More

Tuesday, August 14, 2018

रक्षा बंधन पर निबंध


रक्षा बंधन पर निबंध 

रक्षा बंधन पर निबंध
रक्षा बंधन पर निबंध 



वैसे तो भारत एक त्योहारों का देश है | हमारे हिन्दू संस्कृति में अलग अलग त्योहारों का अपना महत्त्व है | भारत एक मात्र ऐसा देश है जहाँ साल भर कई प्रकार के त्यौहार मनाये जाते है | ऐसा ही एक महत्वपूर्ण त्यौहार है रक्षा बंधन |

रक्षा बंधन भारत में बहुत ही लोकप्रिय त्यौहार है | हर भाई और बहन इस त्यौहार की बड़ी ही उत्सुकता से राह तकते है | भारत में हर समुदाय के लोग इस त्यौहार को बड़ी ही धूम धाम से मानते है | रक्षा बंधन का त्यौहार हर साल श्रावण मास में पूर्णिमा को मनाया जाता है | इस त्यौहार को भाई बहन के प्यार का प्रतिक भी माना गया है |

हर बहन इस पवित्र दिन पर अपने भाई को सुबह जल्दी उठकर उसे तिलक लगाकर उसके दाहिने हाथ में राखी बांधकर उसका मुह मिठा करके  उसके उज्वल भविष्य और उसे हमेशा खुश रहने की कामना करती है | और  बदले में भाई उसके रक्षा का वचन देकर अपनी बहन को कुछ भेंट में देता है | इस पवित्र समय पर भाई बहन का आपसी लगाव और प्यार बढ़ जाता है ,और उनका रिश्ता मजबूत हो जाता है |


हिन्दू पुरानो के अनुसार इस त्यौहार की शुरुवात बड़ी ही रोचक घटना से हुयी थी | जब असुरो के राजा बलि जो की महा दानी थे,उनके 100 यज्ञ पुरे ही होने वाले थे,और उसके बाद उन्हें स्वर्ग का राज प्राप्त होना था | इसपर स्वर्ग के राजा इंद्र देव ने भगवन विष्णु जी से प्रार्थना की , की उनके पद की रक्षा करे | इसपर भगवान विष्णु जी ने  उनके पद की रक्षा का आश्वाशन दिया और राजा बलि के पास एक ब्राम्हण वामन रूप में भिक्षुक के रूप में गए | राजा बलि बड़ा ही दानी था |

इसलिए उसने दान मांगने को कहा तब भगवान विष्णु जी ने राजा बलि से तिन पग रखने के लिए स्थान मांगे | तो भगवान विष्णु जी ने एक पैर से सारी पृथ्वी ,दुसरे पग से सारा ब्रम्हांड और तीसरे पग से राजा बलि को पाताल में भेजकर उसे वहां का राजा बना दिया और उसके सदा ही साथ रहने का वचन दिया ,तो लक्ष्मीजी बड़ी ही चिंतित हुयी तो उन्होंने राजा बलि को राखी बांधकर उनसे भगवन विष्णु को मांगकर अपने साथ ले आई | और तब से ही इस त्यौहार की शुरुवात हुयी |

मध्य भारत में भी  रक्षा बंधन के कुछ अटूट उदहारण भी मिलते है | जब सिकंदर और पोरस की लढाई शुरू होने वाली थी तो सिकंदर के पत्नी ने उसे राखी बांधकर अपने पति की रक्षा का वचन लिया तो युध में राजा पोरस ने सिकंदर की जान बक्श दी |

इस तरह के कई उदहारण हमें भारत में मिलते है जिससे इस त्यौहार का महत्त्व हमें समझ आता है | भारत में हर धर्म और समुदाय में इसका विशेष महत्त्व बना हुआ है | भाई बहन के पवित्र रिश्ते तथा उनके आपस के प्यार ,सम्मान का प्रतिक यह त्यौहार हमारे संस्कर्ती को समृध्द करता है |

इस रक्षा बंधन के पवित्र त्यौहार पर हम सब यह निश्चय करे की हम सब भाई बहनों में प्यार सदा ही बना रहे और हर बहन अपने भाई को हमेशा खुश देखे और हर भाई अपने बहन की सदा ही रक्षा करता रहे |
Share:
Read More

Tuesday, August 7, 2018

Desh Bhakti Poem In Hindi For Class 1 3 5 6-देश भक्ति पोएम


Desh Bhakti Poem in Hindi, desh bhakti kavita in Hindi for class 1, 2, 3, 4, 5.patriotic poems. आज हम यहाँ पर देशभक्ति की कविताए स्टूडेंट के लिए लेकर आए है.

Desh Bhakti Poem In Hindi

1. देश भक्त की कविता

आज़ादी का दिन है आज
यहाँ न चले अब किसीका राज
प्रेम, अहिंसा का यहाँ रिवाज़
पर शत्रु तुम दूर ही रहना देश हमरा वीरों का समाज

आपस में न करो बवाल
पहले खुद से करो सवाल
देश भक्त तुम खुद को कहते
क्यूँ धरती के टुकड़े करते

सीमा पे जो खड़े जवान
उन्ही के कारन है देश महान
देश के लिए वे देते प्राण
प्रान्त की वे बात न करते सारा देश एक सामान

छबीस जनवरी और पंद्रह अगस्त
बस यही दो दिन क्यूँ रहते मस्त
रोज करो तुम देश की पूजा
अपने देश सा न कोई दूजा

सीचे खेत बोये धान
जिनको कहते है हम किसान
देता है कोई इन पर भी ध्यान?
ये न हो तो, न रहेगा का जान

देश बाँटने की जो करे बात
कभी न देना उसका साथ
देश भक्त को खरीद सके, नहीं यहाँ किसी की अवकात
कविता लिख कर मैंने कहदी, अपने सारी दिल की बात

आज़ादी का दिन है आज
यहाँ न चले अब किसीका राज

Patriotic Poems in Hindi:-

ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई ,
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता ,
नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हे कई ,
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता


Patriotic Poems

आन,बान की शान की है यह,गौरव की अभिमान की है,
वीर सपूतों की जन्मभूमि यह,मिट्टी हिंदुस्तान की है।

राम कृष्ण की कर्मभूमि है,वीर कर्ण के दान की है,
पांडवों के महाभारत की यह,द्रौपदी के अपमान की है।

रानी लक्ष्मीबाई की है यह,शिवाजी के प्रण प्राण की है,
राणा प्रताप की प्रतिज्ञा की यह,सिंह भगत के बलिदान की है।

ऋषियों के गुण ज्ञान की है यह,तानसेन की तान की है,
तुलसी,मीरा,सूर,कबीर,बिहारी और रसखान की है।

यह मिट्टी है हिन्दू,मुस्लिम,सिख,बौद्ध,क्रिस्तान की है,
यह मिट्टी तो ईसा,नानक,बुद्ध,खुदा,भगवान की है।

भाषा,बोली,संस्कृति की,संस्कारों की खान की है,
यह भूमि है धर्म,कर्म की,प्रेम,ज्ञान,विज्ञान की है।

ये मिट्टी है,भगत,जवाहर,आज़ाद,सुभाष महान की है,
विवेकानंद के सपनों की यह,बापू के अवदान की है।

यह भूमि है विरासतों की,सभ्यता की पहचान की है,
वन्दे मातरम की धरती यह,जन-गण-मन के गान की है।

सबसे बड़े गणतंत्र की है यह,प्यारे तिरंगे की शान की है,
यह मिट्टी हर इन्सान की है,यह 'जीत' के सम्मान की है।

ऐ मेरे वतन के लोगों तुम खूब लगा लो नाराये शुभ दिन है हम सब का लहरा लो तिरंगा प्यारापर मत भूलो सीमा पर वीरों ने है प्राण गँवाएकुछ याद उन्हें भी कर लो जो लौट के घर न आये....

Share:
Read More